Breaking

Thursday, 22 November 2018

E - Commerce business plan in India

 E - Commerce business plan in India


E-Commerce business आज का billion dollar का modern business है. बहोत ही profitable और  अच्छा business है. ये आज के जमाने के लोगों का शायद इक जरूरतमंद business है. जिसके बारे हम आज विस्तार से जानेंगे.



आप (11/11) ये क्या है जानते है? मै तो कहूंगा की बहोत सारे लोग ये जानते ही नही. (11/11) को single day कहते है. जैसे व्हेलेंन्टाइन डे, mothersday, fathers होता है वैसे ही सिंगल डे होता है जो कि china मे मनाया जाता है. काॅलेज स्टुंडेट और जिनकी शादी नही हुई ऐसे लोग ये दिन मनाते है. नवंबर 11,2018 को ये दिन china मे मनाया गया. इस दिन china की e - commerce कंपनी Alibaba.com ने इक दिन मे 30 billions dollar का business किया जो आज तक का सबसे highest record है. अपने India मे flipkart 8.5 bilionऔर Amazon 6 bilion का business इक साल मे करती है. जो सबसे बडी e - commerce कंपनिया है. लेकिन Alibaba.com ने इन दो कंपनियों तिन गुणा buisiness इक दिन मे किया. ये सब Jack ma sir की business strategy है. पर आप को अंदाजा आ गया होगा कि e -commerce कंपनी इक कुबेर का खजाना है.
    इसी तरह America मे भी Black Friday मनाया जाता है. जो कि नंवबर के fourth Friday को मनाया जाता है. उसे Thankingday भी कहते है. इस दिन लोग एक दुसरे को मिलते है और बधाई देते है. इस दिन भी online shopping पे भारी भरकम shopping होती है. कहने का मतलब ये है कि e - commerce कंपनी बनाना इक बहोत अच्छा और मुनाफा देनेवाला business है. और वैसे भी अपने भारत देश की कुछ चिजे ऐसी है जिसकी demand all over world हमेशा रहती है.
   आज हर इक इंसान के हात मे smartphone है उसमे Internet भी है. अगले सात आठ साल मे 65 करोड  लोग Internet use करेंगे. मतलब 65 करोड कस्टमर भारत मे होंगे. ये बडी कंपनिया Alibaba.com, Flipkart, Amazon, ebay, Snapdeal  इन्होंने अपना मार्केट अच्छी तरह रिसर्च किया है इसलिए ये लोग इतने जोर शोर से advertisement कर रहे है. इनका सबसे बडा मार्केट अपना भारत है. आज भारत मे जो भी ऐसी e - commerce कंपनी चालू करेगा या जिन्होंने चालू कि है उनको billioner बनने से कोई रोक नही सकता.
दो चार साल बाद 70% shopping mobile से होगी.65% लोग Internet use करेंगे जो कि दुनिया दुसरा देश है.5 lakh देहाती खेडा गाव के लोग online shopping करेंगे. दो चार साल के बाद ऐसी कोई वस्तू नही होगी जो की online नही मिलेगी.
    E - Commerce कंपनी पैसो कि बहती गंगा है,जहा हमने अपने हात नही धोये तो क्या फायदा. इक छोटीसी e - commerce कंपनी आप को करोडपती बना ही सकती है. यहाॅ हमे सचिन बंसल सर का आदर्श लेना चाहिए जिन्होंने 10,000 रू. शुरू कि हुई Flipkart  कंपनी आज 40 हजार करोड की कंपनी बन गई है. आज हम internet  पे घंटो टाईमपास करते है. हमे internet पर ऐसी e - commerce के updates जानना चाहिए और जहा कोई मौका मिले अपनी e - commerce कंपनी चालू कर देनी चाहिए.
     ऐसी कंपनी चालू करने के लिए कुछ basic study कि आवश्यक्ता है. जैसे क्या बिकता है, कहा बिकता है जिसके लिए आप magazine,newspaper और Internet पर सर्च कर सकते हो. जिन लोगो ऐसी कंपनिया चालू कि है biography पढनि चाहिए. जितनी हो सके उतनि ज्यादा information कलेक्ट करनी चाहिए. उस से आप को इक basic idea आ जायेगा. ये idea आप के इस business मे बहोत महत्वपूर्ण रोल निभाति है. उदाहरण के लिए मै यहा देसी घी का दुंगा. बाजार मे मिलनेवाला देसी घी शतप्रतिशत शुद्ध होता है इसकी कोई गॅरंटी नही लेकिन कुछ लोग शतप्रतिशत शुद्ध देसी घी बनाते है लेकिन ज्यादा कस्टमर तक पहूंच नही पाते ऐसे लोगो को आपको शुरू में ढूंढना है. इक बार आप कि कंपनी फेमस हो गई तो खुद आयेंगे आप के पास अपना प्राॅडक्ट बिकवाने.
    जो भी product या idea आप बेचने जा रहे है उसका पुरा market survey आपको करना पडेगा.उसमे आप को उसके reputation और demand पे ध्यान देना पडेगा.उसके लिए किसी मास्टर आदमी advice ले सकते है.लेकीन customer का ही opinion लेना सबसे बेहतर है. आप को पैसे की भी जरूरत पडेगी वो कहा से arrange होगा उसका भी प्लान होना चाहिए.उसमे खुद का सेविंग,फॅमिली contribution,bank loan,investor.
   ये सब होने के बाद आपको इक Pvt.Ltd.कंपनी formation करनी पडेगी जो कि मै अपने पिछली post मे detail लिख चूका हूं.documents update होने चाहीए.GST registration, shop act licence ,इक current account और इक office की जरूरत लगेगी.

Company Formation






   
सबसे महत्वपूर्ण है कि Portal.जैसे Alibaba,Flipkart,Amezon के है.जिसके लिए आपको कोई अच्छी software कंपनी देखनी पडेगी जो आप के लिए लेट्स software और अच्छे डिझाईन का portal बना के दे.इसमे भी दो प्रकार होते है. Alibaba,Flipkart,Amezon ये सब बेचते है.मित्रा,उर्बन लेडर जैसी कंपनी कोई एक ही product बेचती है. ebay जैसी कंपनी किसी को भी अपना product ebay के जरीये बेचने मौका देती है.आप को अपने business के हिसाब से portal चुनना पडेगा. portal बनाने का खर्चा 40 हजार से लाखो तक भी होता है.
   E-commerce portal पे आयी हुई  order manufacturer के पास भेजना manufacturer ने customer को माल सप्लाय किया कि नही इन चिजों पर ज्यादा ध्यान देना पडता है. Customer से पैसे लेने के दो तरीके होते है इक online payment और cash on delivery उस मे से फिर manufacturer को पैसा दिया जाता है. इन सभी प्रोसेस मे logistic की भी बहोत अहम भूमिका है. डेली operation मे logistic, पैसे का लेन देन,customer complaint इन चिजों का बहोत ध्यान रखना पडता है. उन सबके लिए इक system और skill manpower की जरूरत होती है.
     इसके बाद आपको अपनी कंपनी की marketing करनी पडेगी. अगर आपकी कंपनी लोगो को मालूम ही नही पडेगी तो आपके portal पर खरीदारी के लिए आयेगा कौन? उसके लिए आप को अपनी कंपनी का social media मे अच्छा SEO (search engine optimization) करना पडेगा. e-mail marketing करनी पडेगी. apps बनाना पडेगा. event organise करने पडेंगे. news paper, tv पर add  देने पडेंगे.
    इक बार आपका setup हो गया तो फिर आपको अपने business के growth के बारे मे सोचना चाहिए. मतलब product बढाना, नये नये फंडे आजमाना जैसे free delivery, return policy etc. ये सब सिस्टेमॅटिक किया जाय तो आप को billionaire बनने से कोई रोक नही सकता.